naaradtv.com

किस्मत हमेशा मौका देती है लेकिन मौके पर चौका मारने का हुनर और आत्मविश्वास तो खुद की मेहनत ही दिलाती है।
ये  जीवन  का एक अटल सत्य है और कहीं ना कहीं क्रिकेट का भी|
इस बात को नकारा नहीं जा सकता कि अनिश्चिताओं से घिरा क्रिकेट का खेल हो या जीवन का संघर्ष, काफ़ी हद तक चीजें किस्मत पर निर्भर करती हैं |
लेकिन चूक चाहे मेहनत की हो या किस्मत रूठा हो दुनिया तो सिर्फ बेहतर रिजल्ट की मुरीद होती है | और अगर आप अपने फिल्ड के बड़े नामों मे शुमार हैं तो ये चीजें आपको और भी ज्यादा प्रभावित करती है | ऐसा ही एक उदाहरण भारतीय क्रिकेट के सबसे बड़े संग्राम ipl का है ।
जिसे “गेम बनाएगा नेम”जैसे लाइनों से भी नवाजा जाता है | यहाँ अच्छे  खेल के बदौलत अगर किसी युवा खिलाड़ी का कद बढ़ जाता है ,तो लगातार ख़राब प्रदर्शन किसी बड़े नाम को भी आलोचकों के निशाने पर ला देती है | तो आज नारद टीवी 2020 ipl के कुछ ऐसे बड़े नामों की समीक्षा करेगा जो क्रिकेट जगत मे किसी परिचय के मोहताज नहीं है और ना ही उनमे प्रतिभा की कमी है, विश्व क्रिकेट मे अपना अलग स्थान रखने के बावजूद जिनका लगातार ख़राब फॉर्म उनकी टीम के हार का  बड़ा  कारण बन रहा है | जिससे वो खुद की टीम और उनके प्रसंशक को कहीं ना कहीं खटक रहें है |

तो हमारे लिस्ट का जो सबसे पहला नाम है ये कोलकाता नाइटराइडर्स के  वो खिलाड़ी हैं  जो आमतौर पर डेथ ओवरों मे हारी बाजी को जीत मे बदलने के लिए जाने जाते हैं  |
2018-19 के आईपीएल का वो दौर… जब टीम हार के दहलीज पर खड़ी होती थी तब 300-400 के तूफानी स्ट्राइक रेट से धुआँधार पारी खेलकर कोलकाता को जीत दिलाने वाले आंद्रे रस्सल ही थे ।
शायद यही कारण है कि kkr टीम इस सीजन भी रस्सेल का मोह छोड़ नहीं पायी ।
KKR द्वारा 8.5 करोड़ की बड़ी कीमत पर इस कैरिबियाई खिलाड़ी को टीम मे शामिल किया गया जो टीम के लिए फ्लॉप साबित हो रहा है |
रस्सेल ने ipl 2020के 7 मैचों मे 11.83की औसत से कुल 71 रन ही बनाये, और  गेंद से भी  कुछ खास नहीं कर सके |
अपने पहचान और प्रतिभा से विपरीत प्रदर्शन के कारण यह ऑलराउंडर कोलकाता टीम की एक कमजोर कड़ी साबित हो रहा है | जिसका kkr के पास कोई विकल्प मौजूद नहीं है जिस कारण ये खिलाड़ी अभी भी टीम के एकादश का हिस्सा बना हुआ है |

Andre Russell

अब बात करते है इस लिस्ट के दूसरे.. बड़े नाम की,
जैसा कि आपको पता है कि किंग्स 11 पंजाब अपने शुरूआती 7मुकाबले मे से 6 मुकाबले गवां चुकी  है ।जिससे अब लिए प्ले ऑफ मे जगह बनाना मुमकिन नहीं दिख रहा है जिसका मुख्य कारण उनके कुछ बड़े खिलाड़ियों का फ्लॉप होना है ।
जिसमे मैक्सवेल अब तक टीम के सबसे फिसड्डी साबित हुयें हैं |
10.75 करोड़ के इस खिलाड़ी ने 7 मैच मे 14.5 के औसत से केवल 58 रन बनाये हैं जिसमे 13 रन उनका सर्वाधिक स्कोर है और अपने विस्पोटक बल्लेबाजी के लिए जाने वाले इस खिलाड़ी का स्ट्राइक रेट भी महज 95 का है |
अगर अगले मैच मे मैक्सवेल पंजाब टीम के साथ मैदान पर नजर ना आये तो दर्शकों को कोई हैरानी नहीं होगी | लेकिन अपने सबसे महंगे खिलाड़ी को प्लेइंग टीम से बाहर बैठा पाना किंग्स 11 पंजाब के लिए आसान नहीं है |

Glenn Maxwell

हमारे लिस्ट का जो अगला नाम है वो कभी भारतीय टीम का नियमित हिस्सा हुआ करता था लेकिन फिलहाल मे भारतीय टीम मे जगह खोने के बाद चेन्नई सुपर किंग्स टीम के मध्य क्रम बल्लेबाज के तौर पर शामिल है |
केदार जाधव…. जिन्हें kkr vs csk के पहले मुकाबले मे 12 गेंद पर 7 रन की धीमी पारी के लिए काफ़ी ट्रोल भी किया गया | 2020 ipl मे खेले गए   6 मैचों मे इनका प्रदर्शन संतोषजनक नहीं रहा | ये अपने कुल मैचों मे 58 रन बना सके
काफ़ी मौका देने के बाद भी ये खिलाड़ी उसे भुना नहीं सका | जिससे 7.8 करोड़ मे ख़रीदे गए इस खिलाड़ी को  टीम प्रबंधन द्वारा प्लेइंग 11 से बाहर करना पड़ा | जिससे इनके अंतराष्ट्रीय करियर के बाद  इनका ipl करियर भी दांव पर लगा हुआ है |

Kedar Jadhav

इस लिस्ट के जो अगले खिलाड़ी है वो कभी मुख्य गेंदबाज की हैसियत से भारतीय टीम मे शामिल थे ।
लेकिन विगत कुछ वर्षो से लगातार अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से बाहर होने के बाद घरेलु क्रिकेट मे भी काफ़ी जूझ रहे  है,
थ्रो मैंन कहे जाने वाले उमेश यादव…. जिन्हे   rcb टीम की तरफ से ipl के तेरहवे सीजन मे मात्र 2 मैचों मे मौका मिला, जिसमे उनका प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा, उन्होंने इन 2 मैचों मे 11.85 के इकोनॉमी से 7 ओवर मे 83रन लुटाये जिसके बाद टीम ने और मौका देने के बजाय उन्हें बाहर करना ज्यादा उचित समझा |
उमेश यादव के अंतराष्ट्रीय क्रिकेट के शानदार आकड़ो को देखकर इनके प्रतिभा पर कोई संदेह नहीं किया जा सकता लेकिन इनके 2019-20 आईपीएल का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा |अब इनके रिप्लेसमेंट के बाद rcb टीम मे मजबूती आई है |
उमेश यादव को rcb द्वारा 4.2 करोड़ मे रिटेन किया गया जो इनके पिछले सीजन के प्रदर्शन को देखते हुए एक बड़ा दाँव माना जा रहा था |

Umesh Yadav

अब बढ़ते है इसी लिस्ट के अगले नाम की ओर.. ये  2014 मे ipl विजेता टीम का हिस्सा होने के साथ ऑरेंज कैप धारक भी रह चुके  हैं |
जैसा कि हम जानते हैं कि कोलकाता नाइटराइडर्स को दूसरी बार आईपीएल चैंपियन बनाने मे सबसे बड़ा योगदान रॉबिन उथप्पा का ही रहा था | इस खिलाड़ी ने 7वे सीजन के 16 मैचों मे 44 के औसत से 5 अर्धशतक सहित कुल 660 रन बनाये थे | जिसके बाद उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम मे भी मौका मिल चूका है |
इस साल ipl मे इन्हें 3 करोड़ मे राजस्थान रॉयल्स द्वारा ख़रीदा गया जिन पर टीम की काफ़ी उम्मीदें टिकी थी ।
लेकिन  ipl का ये अनुभवी खिलाड़ी 6 मैचों मे 10.20 की औसत से मात्र 57 रन बनाकर ipl के सुपर फ्लॉप खिलाड़ियों मे शुमार हो गया | बावजूद इसके टीम का इन पर भरोसा कम नहीं हुआ | जिससे ये  दिल्ली कैपिटल vs राजस्थान रॉयल्स मुकाबले मे भी टीम के साथ खेलता नजर आये  जिसमे इन्होने 32 रन की ठीकठाक पारी खेली लेकिन इसे आगे बढ़ाकर अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके |

Robin Uthappa

इसके अलावा भारत के टेस्ट उपकप्तान रहे अजिंक्य रहाणे भी इस लिस्ट से दूर नहीं है जिन्हें दिल्ली कैपिटल्स द्वारा 5.25 करोड़ मे खरीदकर खिलाड़ियो के रिप्लेसमेंट के तौर पर रिजर्व रखा गया था, और ipl के स्टार खिलाड़ी ऋषभ पंत के चोटिल होने पर इन्हें अब तक 2 मैचों मे मौका दिया गया लेकिन इन दोनों ही मैचों मे उनका प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा, रहाणे 8.5 की औसत से महज 17 रन ही बना पाए, जिसमे इनका स्ट्राइक रेट भी t20 के विपरीत 70.83 की रहा  | अब दिल्ली की टीम इस खिलाड़ी को आगे के मैचों मे मौका देती है या नहीं, ये देखना काफ़ी दिलचस्प होगा.

Ajinkya Rahane

नारद टीवी द्वारा ये सभी नाम 2020 ipl के आंकड़े और खिलाड़ियों प्रदर्शन के आधार पर शामिल किये गए है, अगर इनमे से किसी खिलाड़ी से आपकी भावनाएं जुड़ी हो तो उसके लिए क्षमा करें|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!