शंकराचार्य के सन्यास लेने की कहानी- जब उन्हें एक मगरमच्छ ने दबोच लिया था

हमारी संस्कृति में कथाओं, महाकाव्यों का बड़ा महत्व रहा है, महाकाव्यों को तो हमने स्वयं भगवान का ही दर्जा दे…

शराब के नशे में खेली गयी धुआंधार पारी : वन डे मैच में जब पहली बार बने 438 रन

“खरबूजे  को देखकर खरबूजा रंग बदलता है”-ये कहावत असल जिंदगी में कितना प्रेक्टिकल है ये तो कहा नहीं जा सकता.लेकिन…

जब फारस के एक महान सूफी संत को सरेआम दी गई एक सबसे दर्दनाक मौत

अन-अल-हक इस शब्द का अगर संस्कृति में तर्जुमा करें तो अर्थ “अहमं ब्रह्मास्मि” के समरूप होगा जिसको भारतीय आध्यात्मिक सिद्धान्त…

error: Content is protected !!