Political

भू अधिकारियों द्वारा अवैध कब्जा

भू अधिकारियों द्वारा अवैध कब्जा

उत्तर प्रदेश ( बस्ती) : अक्सर आप लोगों ने ये सुना होगा कि – ” क़ानून अंधा होता है। ” लेकिन ये पूरी तरह से सच नहीं है। सच तो ये है कि- ” कानून काना होता है“। मतलब उसकी एक आँख उस तरफ खुली होती है जिस तरफ पैसा होता है, पावर होता है। ग़रीबों और मज़लूमों पर पड़ने वाली आँख हमेशा बन्द रहती है। मामला है उत्तर प्रदेश के बस्ती ज़िले के विक्रमजोत विकास खण्ड क्षेत्र के कवलपुर गाँव का। जहाँ उत्तर प्रदेश के अधिकारियों द्वारा ज़बरन ज़मीन कब्ज़ा करवाने का मामला सामने आया है। पहले जो काम गुंडे माफ़ियायों द्वारा करवाया जाता था वर्तमान में वो कार्य उत्तर प्रदेश के अधिकारी कर रहे हैं। अभी तक योगी का बुलडोजर अवैध निर्माणों पर चलता था वही बुलडोज़र अब कुछ अधिकारियों के सह पर अवैध निर्माण करवाने के लिए चल रहा है।

आइये पूरी घटना समझते हैं-                                                                                                                                              1. उक्त भूखंड गाटा संख्या 262 NHAI 28 के दक्षिण में स्थित है। जो किसान ( स्वर्गीय सूर्य नारायण सिंह) द्वारा सन 1988-89 में शिव कुमार पुत्र रामलखन व राधेश्याम पुत्र रामलखन को दो बिस्वा ज़मीन बैनामा किया गया था तथा कब्ज़ा प्राप्त करने के बाद क्रेता पक्ष द्वारा भवन निर्माण भी किया गया था।

चकबन्दी अधिकारी प्रदीप कुमार श्रीवास्तव

 

2. राष्ट्रीय राजमार्ग फोर लेन निर्माण में क्रेता के पूरे भवन को सन 2007 में NHAI द्वारा गिरा कर नियमानुसार मुआवज़ा भी दिया गया था।

3. लगभग 15 साल के बाद पूंजीपति व्यवसायी राधेश्याम पुत्र रामलखन द्वारा ज़िला अधिकारी बस्ती को प्रार्थना पत्र देकर विक्रेता स्वर्गीय सूर्य नारायण सिंह के परिवार को जातिगत आधार पर गुंडा, दबंग, भू माफिया बताकर प्रस्तुत किया गया जो की वास्तविकता से परे है।

नायब तहसीलदार  निखिलेश कुमार चौधरी

4. दिनाँक 27- 08-2022 दिन शनिवार को चकबंदी अधिकारी प्रदीप कुमार श्रीवास्तव , नायब तहसीलदार हर्रैया मिथिलेश कुमार चौधरी , राजस्व टीम , चकबन्दी टीम व पोलिस प्रशासन के साथ बिना किसी सूचना के बुलडोज़र , मिक्सर मशीन, 25 मज़दूर व भवन निर्माण सामग्री के साथ पहुंचे और ज़बरन तरीक़े से बिना किसान का पक्ष सुने किसान की भूमि पर अवैध निर्माण करवाने लगे।

संक्षिप्त रूप में कहें तो बस्ती जनपद के अधिकारियों द्वारा पूंजीपति के निर्देशों पर कार्य किया जा रहा है। और किसान परिवार ( विनोद कुमार सिंह पुत्र सूर्य नारायण सिंह) न्याय के लिए भटक रहा है। पूरे मसले को जतजवादी रंग भी दे दिया गया है जिससे सभी किसानों में आक्रोश है।

किसान – विनोद कुमार सिंह पुत्र स्वर्गीय सूर्य नारायण सिंह

 

Show More
Back to top button
error: Content is protected !!